Announcements

संक्षिप्त परिचय 

लक्ष्य का निश्चय, पथ का निर्धारण, उपलब्धियाँ, दैनिक चुनौतियाँ एवं उस ओर पहला कदम; यही आपकी सफलता का मार्ग बन जाता है।  ध्यये लाॅ आपकी इसी यात्रा में आपका साथी है जो आपकी सहायता, आपके मार्ग दर्शन हेतु कदम-कदम पर आपके साथ बढ़ता है।  आपकी सफलता की यात्रा, हमारी यात्रा है, जहाँ हम आपको, आपके लक्ष्य तक पहुँचने में सक्षम बनाने, सशक्त करने एवं प्रोत्साहन देने हेतु अग्रसरहै।

ध्येय लाॅ में अध्यापन में संलग्न सभी महानुभाव विधि शिक्षण एवं अधिनिर्णयन के क्षेत्र में  गुण-सम्पन्न तथा अनुभवी है।  और पढ़ें…

ध्येय लाॅ की अध्ययन सामग्री अद्वितीय एवं कठिन परिश्रम द्वारा किये गये अन्वेषण का परिणाम है। ध्येय लाॅ का कक्षा कार्यक्रम सीखने, आत्मसात तथा व्यक्त करने की वैयक्तिक क्षमता को उन्नत करने पर केन्द्रित है।

मूल्य आधारित व्यवस्था- “हमारी कार्यप्रणाली कठिन परिश्रम, अनुशासन, सत्यनिष्ठा एवं सहयोग जैसे आधारभूत मूल्यों पर आधारित है। हम छात्रों को गुणी एवं उत्तम नागरिक बनाने हेतु प्रतिबद्ध है।”

प्रायः पूछे जाने वाले प्रश्नोत्तर

समय-समय पर समसामयिकी से संबधित विशेष वीडियो हमारे Youtube चैनल पर अपलोड किये जायेंगें परन्तु नियमित आनलाॅइन कक्षायें नहीं चलेंगी।

आप हमें ध्येय लाॅ की वेबसाइट, फेसबुक,  ट्विटर, इन्स्टाग्राम एवं यूट्यूब पर फालो कर सकते है।

हाँ, हम आनलाइन पाठ्य सामग्री भी देतेहै। इस हेतु आपको हमारी वेबसाइट के होमपेज पर रजिस्ट्रेशन करना होता है।

आप हमारी वेबसाइट पर आनलाॅइन टेस्ट सीरीज हेतु आनलाॅइन पोर्टल का प्रयोग करते हैं, जिसमें आनलाॅइन टेस्ट सीरीज से संबंधित सभी जानकारियाँ उपलब्ध है।

ध्येय लाॅ में अभी “एकवर्षीय प्रीमीयम बैच“ की व्यवस्था है।

अभी प्रीमियम बैच की क्लासेस अलीगंज सेन्टर, लखनऊ में ही चलती है।

अपनी तैयारी हेतु आपको हर विषय की एक मानक पुस्तक सुनिश्चित करके उसका विस्तृत अध्ययन करना चाहिए। अध्ययन के दौरान ही आप संक्षिप्त एवं सटीक नोट्स बनायें। साथ ही ध्येय ला से दिये जाने वाले नोट्स आपके यथोचित मार्गदर्शन हेतु उपलब्ध है।

मुख्य परीक्षा में आपको तीन तरह के उत्तर लिखने होगें। भाषा के परीक्षा पत्र हेतु आपको भाषा से परिचित होना आवश्यक है। इस हेतु आपको मासिक आधार पर विगत वर्षों में पूछे गये भाषा के प्रश्नों को हल करना चाहिए। प्लीडिंग एवं ड्राफ्टिंग सम्बन्धित प्रश्न हेतु आपको इनके प्रारूप एवं अधिकार क्षेत्र का ज्ञान होना अत्यन्त आवश्यक है। अन्य सभी प्रकार के वस्तुनिष्ठ प्रश्नों के उत्तर की तैयारी हेतु आपको अपने शिक्षक के मार्गदर्शन में साप्ताहिक अभ्यास करना चाहिए।

बेयर ऐक्ट की भाषा की समझ अनिवार्य है। बेयर ऐक्ट के प्रावधानों में आने वाले शब्दों जैसे “अथवा“, “केवल“, “के होते हुए“ आदि के महत्व एवं अन्तर की समझ होनी चाहिए। हर प्रावधान को रटने के बजाय एक प्रावधान का दूसरे प्रावधान से सम्बन्ध समझ कर उसे ग्रहीत करना चाहिए।

परीक्षा में सफल होने की कुंजी बेयर ऐक्ट ही है। आपको बेयर ऐक्ट के प्रावधान कंठस्थ होने चाहिए।

संपर्क सूत्र 

WhatsApp chat